Athrav – Online News Portal
जरा हटके दिल्ली नई दिल्ली

जीआरपी को लावारिश अवस्था में मिली सोने के गहने व नकदी से भरे बैग, 3 लाख के थे सोने के आभूषण,लौटाया।

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
नई दिल्ली : हजरत निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन राजकीय रेलवे पुलिस ने आज खोए हुए सोने के गहने व नकदी से भरे हुए बैग को असली मालिक को सौप दिया। बैग में तक़रीबन तीन लाख रूपए के सोने के गहने और 3000 रुपए नकद रखे हुए थे। यह बैग 11 जुलाई को सांय के वक़्त कॉस्टेबल महेश कुमार व प्रेम कुमार को लावारिश अवस्था में मिले थे। राजकीय रेलवे पुलिस की इस बेहतरीन कार्य की हर कोई प्रशंसा कर रहा हैं।

पुलिस अधिकारी की माने तो बीते 11 जुलाई 2019 को तक़रीबन 6.40 बजे सांय थाना हजरत निजामुद्दीन रेलवे के सराय काले साइड एफओबी पर तैनात राजकीय रेलवे पुलिस कॉस्टेबल. महेश कुमार व प्रेम नारायण को एक गुलाबी रंग का लेडीज़ पर्स स्कैनर के पास लावारिश अवस्था में मिला जिसमे चेक करने पर सोने के आभूषण व नकदी पाए गए,दोनों सिपाहियों ने मौजूद सवारियों से इसके बारे में पता करने की काफी कोशिश की. मगर कोई सुराग न चलने पर दोनों सिपाहियों ने तुरंत थाने में लाकर एटीओ Iइंस्पेक्टर शिव चरण मीणा के हवाले कर दिया ।उनका कहना हैं कि ज्वैलरी पाउच पर भरत पुर के ज्वैलर का पता लिखा मिला था और समय भी कोटा साइड जाने वाली मेवाड़ एक्सप्रेस का था.



इस आधार पर इंस्पेक्टर शिव चरण मीणा ने जीआरपी के थाना मथुरा, भरतपुर व जीआरपी पोस्ट -बयाना, हिंडौन को भी सूचित किया और ज्वैलर से भी सुराग लगाने की कोशीश की. मगर इस लेडीज बैग के असली मालिक का पता नही चल पाया। इसलिए बरामद सामान को उन्होनें बतौर अमानत सूची तैयार कर थाना के माल खाना में रखवा दिया और तलाश जारी रखी ,जिस पर आज थाना-एचएनआरएस में अपनी लॉस्ट रिपोर्ट दर्ज करवाने आए पुष्पेंद्र शुक्ला उर्फ़ सोनू पुत्र होरी लाल निवासी मनोहर कालोनी ,बैर, जिला भरतपुर, राजस्थान को हर तरह से तस्दीक करने के बाद सोने के आभूषणों व नकदी से भरा बैग उनके हवाले किया,जिसमे करीब 3 लाख के सोने के आभूषण व करीब 3000 रूपए नकद थे।

Related posts

गोयल के ‘दिल्ली बचाओ’ अभियान से राज्य इकाई नाराज

webmaster

नई दिल्ली : लोकसभा चुनाव 2019 का ऐलान : जानिए किस चरण में कहां होंगे लोकसभा चुनाव

webmaster

मजाक में पार्किंग में खड़ी बस ले भागे बच्चे, और फिर…क्या हुआ,भागे लोग,बच्चे को पुलिस के हवाले किया

webmaster
error: Content is protected !!