Athrav – Online News Portal
गुडगाँव व्यापार हरियाणा

बड़ी खबर है कि ऑटो सैक्टर की सबसे बड़ी कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया लिमिटेड ने अपना प्रोडक्शन पुनः शुरू किया।

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
गुरुग्राम: हरियाणा ही नहीं देश के उद्योग जगत के लिए यह बड़ी खबर है कि ऑटो सैक्टर की सबसे बड़ी कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया लिमिटेड ने आईएमटी मानेसर यूनिट में अपना प्रोडक्शन पुनः शुरू कर दिया है। देशव्यापी लॉक डाउन के दौरान जारी जद्दोजहद के बीच अंततः वह घड़ी आ गई जब एक बार फिर गुरुग्राम में कार उत्पादन शुरू हो गया है। आज मारूति सुजुकी इंडिया लिमिटेड ने लाॅकडाउन के बाद अपनी पहली कार मैनुफैचर की।कंपनी प्रबंधन ने आज मंगलवार से अपनी मानेसर ईकाई में उत्पादन शुरू कर दिया है और पहले दिन लगभग 2500 कर्मी प्लांट में काम पर पहुंचे। प्रबंधन का कहना है कि उत्पादन का आज पहला दिन था और कल से कर्मियों की संख्या बढ़ने की आशा है। साथ ही बताया गया कि कंपनी के गुरूग्राम स्थित प्लांट में उत्पादन शुरू करने की तैयारियां भी शुरू कर दी गई हैं। गुरूग्राम प्लांट में स्टाफ धीरे धीरे काम पर लौट रहा है और उत्पादन शुरू करने की दिशा में तैयारियां की जा रही हैं।
 
कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए देशव्यापी लॉक डाउन के कारण औद्योगिक उत्पादन पूरी तरह ठप्प था और अब देश की बड़ी आॅटोमोबाइल कंपनी मारूति सुजुकी इंडिया लिमिटेड द्वारा कार उत्पादन शुरू करने से इसकी सहयोगी ईकाइयों में भी उत्पादन शुरू होगा जिससे कर्मियों का पुनः ड्यूटी पर आना शुरू होगा। इससे उनके रोजी रोटी की समस्या का समाधान हो सकेगा। गृह मंत्रालय द्वारा जैसे जैसे लाॅकडाउन में ढील दी गई है, उस पर अमल करते हुए गुरूग्राम जिला प्रशासन ने भी जिला में औद्योगिक और वाणिज्यिक गतिविधियां चरणबद्ध तरीके से शुरू करने की मंजूरी दे दी है। बड़ी औद्योगिक ईकाई के शुरू होने से उसके साथ जुड़ी तमाम छोटी ईकाइयों में भी उत्पादन शुरू होना स्वाभाविक है, जिससे उनमें काम करने वाले कर्मियों को पुनः रोजगार मिलेगा और लाॅकडाउन में ठप्प हुआ जन जीवन पुनः सामान्य होने की तरफ अग्रसर होगा। गुरूग्राम जिला में मारूति सुजुकी जैसी बड़ी कंपनियों सहित लगभग 1330 औद्योगिक और वाणिज्यिक गतिविधियों को प्रशासन द्वारा मंजूरी दी जा चुकी है जिनमें 1 लाख से अधिक कामगारों के पुनः काम पर लौटने का रास्ता प्रशस्त हो गया है। जिला प्रशासन से अनुमति मिलने के बाद पिछले लगभग एक सप्ताह से मारूति कंपनी प्रबंधन अपने श्रमिकों को प्लांट शुरू करने के बारे में सूचित करने के साथ साथ तैयारियों में लगा हुआ था। बताया गया कि कंपनी ने मारुति सुजुकी वैलनेस मित्रा नामक एक ऐप डेवलप कर अपने सभी श्रमिकों से संपर्क साधा।

इस ऐप के माध्यम से श्रमिकों का लोकेशन और उनके स्वास्थ्य संबंधी जानकारी के साथ-साथ उनकी व्यक्तिगत समस्याओं का डाटा जुटाने के प्रबंध किए गए जबकि उन्हें कंपनी की ओर से आवश्यकतानुसार मदद भी पहुंचाई जा रही है। इस ऐप के माध्यम से मारुति सुजुकी प्रबंधन ने लगभग अपने सभी श्रमिकों से संपर्क साध लिया है और उन्हें कोरोनावायरस संक्रमण की दृष्टि से संवेदनशील रहने को भी कहा जा रहा है। बताया जा रहा है कि इस बार प्रबंधन द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग को मेंटेन करने के लिए यूनिट में प्रवेश करने से लेकर शिफ्ट ऑफ होने तक की पूरी गतिविधियों को मॉनिटरिंग करने के लिए खास व्यवस्था की गई है। अब एक टेबल पर केवल एक श्रमिक दिखाई पड़ता है जबकि पहले एक टेबल पर 4 श्रमिकों की ड्यूटी होती थी। लंच और टी ब्रेक के दौरान भी इसका पालन कराया जा रहा है। इसके अलावा श्रमिकों के बैठने की दिशा अलग अलग होगी जिससे संक्रमण की रोकथाम में मदद मिलेगी। अब मानेसर स्थित प्लांट में प्रवेश करने और बाहर निकलने के समय सभी श्रमिकों का बॉडी सैनिटाइजेशन भी किया जा रहा है जिसके लिए कंपनी गेट पर खासतौर से निर्मित सैनिटाइजेशन टनल की स्थापना कराई गई है। इसके अंदर से श्रमिकों को गुजरने के समय सैनिटाइज किया जा रहा है। इसके अलावा, श्रमिकों के आने और जाने के समय उनका बॉडी टेंपरेचर भी थर्मोस्कैनर से चैक किया जा रहा है। सभी श्रमिकों को दस्ताने और मास्क  पहनना अनिवार्य कर दिया गया है।    

Related posts

फरीदाबाद: कांग्रेस पूर्व सांसद अवतार भड़ाना के होली मिलन समरोह में प्रदेश अध्यक्ष अशोक तंवर पहुंचे, भूपेंद्र सिंह हुड्डा गुट दूरी बनाए रखा।

webmaster

गुरुग्राम :प्रॉपर्टी कारोबारी महेंद्र वर्मा की हत्या फेसबुक दोस्त ने की थी,क्राइम ब्रांच,सेक्टर -10 की टीम ने एक आरोपी को किया गिरफ्तार।

webmaster

1 करोड़ की इनामी कबड्डी प्रतियोगिता

webmaster
error: Content is protected !!