Athrav – Online News Portal
फरीदाबाद हरियाणा

पदोन्नति साथ लेकर आती है बड़ी जिम्मेदारी, नवपदोन्नत पुलिस उप अधीक्षकों का प्रशिक्षण संपन्न- डीजीपी मनोज यादव

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
चंडीगढ़: पदोन्नति अपने साथ अधिकार के साथ-साथ बड़ी जिम्मेदारी भी लेकर आती है, जिसे पुलिस अधिकारी को संयम और सच्चाई के साथ पूरा करना चाहिए। यह उद्गार हरियाणा पुलिस के महानिदेशक मनोज यादव ने आज मधुबन में व्यक्त किए। वे अकादमी के सरदार पटेल हाल में आयोजित नव पदोन्नत पुलिस उप अधीक्षकों के प्रशिक्षण कार्यक्रम के समापन अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में अपना संबोधन दे रहे थे। इस अवसर पर हरियाणा सशस्त्र पुलिस के महानिरीक्षक हरदीप सिंह दून व अकादमी निदेशक योगिन्द्र सिंह नेहरा भी उपस्थित रहे। 21 सितम्बर को आरम्भ हुए इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में 29 नव पदोन्नत पुलिस उप अधीक्षकों ने भाग लिया।मुख्य अतिथि मनोज यादव ने अपने संबोधन में कहा कि पुलिस विभाग में सभी पदों की महत्वपूर्ण जिम्मेदारियां है। पद बढऩे के साथ-साथ जिम्मेदारी भी बढ़ती है।

पुलिस उप अधीक्षक एक राजपत्रित अधिकारी का पद है और इस पद पर नियुक्त पुलिस अधिकारी से अपेक्षाएं भी उंच्चे दर्जे की हो जाती है। उन्होंने कहा कि अधिकारी के रूप में अपने पद व गरिमा के अनुरूप व्यवहार करें और यह जाने कि इस पद पर आने के बाद क्या सीखना है और क्या नहीं सीखना है। हमेशा ध्यान रखें कि अब पुलिस उप अधीक्षक के रूप में लोगों की निगाहें आपकी ओर अधिक होंगी। इसलिए अच्छे आचरण को हमेशा आत्मशात करते रहना होगा। उन्होंने सरदार पटेल के कथन के माध्यम से प्रतिभागियों का मार्गदर्शन करते हुए कहा कि पुलिस अधिकारी वह है जो अपना संयम नहीं छोड़ता। पुलिस का कार्य कानून के साथ बंधा है। कानून को सही प्रकार से लागू करने के लिए उसके बदलते सवरूप,उसके बारे में न्यायालय के निणयों की नई जानकारी रखना जरूरी है, इसलिए पढऩे की आदत डाले। अपने अधीनस्थ पुलिसकर्मियों के कल्याण, उनके मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य का ध्यान रखने का उत्तरदायित्व भी इस पद पर आने से आप आ गया है, इस ओर भी ध्यान दें।

उन्होंने उच्च स्तर के प्रशिक्षण कार्यक्रम के लिए अकादमी निदेशक योगिन्द्र सिंह नेहरा को बधाई दी। मुख्य अतिथि ने प्रतिभागियों को प्रमाण-पत्र भी प्रदान किए।कार्यक्रम के आरम्भ में अकादमी के निदेशक योगिन्द्र सिंह नेहरा ने मुख्य अतिथि को पुष्प भेंट कर स्वागत किया तथा समापन अवसर पर धन्यवाद संबोधन प्रस्तुत करते हुए मुख्य अतिथि द्वारा प्रतिभागियों को दिए गए संदेश को सूत्र में पिरोते हुए कहा कि आत्मसम्मान, चरित्र और सद् आचरण को हमेशा ध्यान रखें और समाज व साथी पुलिस के लिए आदर्श बनने का प्रयास करें। उन्होंने मुख्य अतिथि मनोज यादव, आईजी एचएपी हरदीप सिंह दून, डीए आनंद मान, प्रतिभागियों व अकादमी स्टाफ का आभार व्यक्त किया।  इस अवसर पर अकादमी के पुलिस उप अधीक्षक अजेमर ङ्क्षसह भी उपस्थित रहे।

Related posts

फरीदाबाद : केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल ने कई करोड़ के विकास कार्यों का किया शिलान्यास,सेक्टर -31 में बनेंगे 10 करोड़ के स्विमिंग पुल ।

webmaster

लाखों व्यापारी परेशान, अधिकारियों में नहीं तालमेल, राजनेता करें हस्तक्षेप: जगदीश भाटिया

webmaster

कोरोना पॉजिटिव गर्भवती महिला की हुई नागरिक अस्पताल पलवल में सफल डिलीवरी

webmaster
error: Content is protected !!