Athrav – Online News Portal
टेक्नोलॉजी हरियाणा

पलवल: श्री विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय के प्रांगण में वार्षिक दिवस के अवसर पर अभिनन्दन समारोह का आयोजन ।

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
पलवल: श्री विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय के प्रांगण में शनिवार को वार्षिक दिवस के अवसर पर अभिनन्दन समारोह 2019 तथा पुरस्कार वितरण समारोह का आयोजन किया गया। समारोह में विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों ने उत्साह पूर्वक भाग लिया। कार्यक्रम का शुभारंभ आईआईटी रोपर के निदेशक प्रोफेसर सरित कुमार दास ने बतौर मु यातिथि उपस्थित होकर दीप प्रज्वलित करके किया। कार्यक्रम में हरियाणा राज्य उच्च शिक्षा परिषद के अध्यक्ष डॉ बी.के. कुथियाला, हरियाणा राज्य महिला आयोग की वाइस चेयर पर्सन प्रीति भारद्वाज, पुरस्कार वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला की निदेशक लिपिका वर्मा ने विशिष्ट अतिथि के रूप में शिरकत की। कार्यक्रम के मुख्यतिथि एवं आईआईटी रोपर के निदेशक प्रोफेसर सरित कुमार दास ने विद्यार्थियों की हौसला अफजाई करते हुए कहा कि आज किताबी ज्ञान के साथ-साथ बच्चों का सर्वागीण विकास किया जाना अति आवश्यक है और इस तरह के आयोजन इसमें एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। उन्होंने श्री विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय के इस प्रयास की विशेष सराहना करते हुए कहा कि यूनिवर्सिटी के पास अभी पर्याप्त संसाधन न होने के बावजूद भी यहां छात्रों को शिक्षा के साथ एक छात्र जीवन के सभी पहलुओं से जोडा जा रहा है। उन्होंने कहा कि इंडस्ट्री इंटीग्रेटेड अपने अद्भुत्त मॉडल के साथ आने वाले समय में विश्व स्तर पर एक उदाहरण साबित होगी। उन्होंने बच्चों से लक्ष्य को पाने के लिए कड़ी मेहनत करने का आहवान किया।

समारोह का शुभांरभ माता सरस्वती की वंदना के साथ हुआ। समारोह में विद्यार्थियों ने नृत्य, गायन (सोलो), नृत्य (समूह) आदि सांस्कृतिक कार्यक्रमों की भव्य प्रस्तुतियां पेश कर सबको मंत्र मुग्ध कर दिया। विशिष्ट अतिथि एवं हरियाणा स्टेट हायर एजुकेशन कौंसिल के अध्यक्ष डॉ बी. के. कुठियाला ने इस आयोजन के लिए विश्वविद्यालय के कुलपति राज नेहरू को विशेष बधाई दी। उन्होंने कहा कि यह आयोजन विभिन्नताओं का अनूठा स िमश्रण था। जहां एक तरफ अकादमिक उपलब्धियों में छात्रों को पुरस्कृत किया गया वहीं दूसरीं ओर खेल तथा सांस्कृतिक उपलब्धियां भी उल्लेखनीय रही। मंच पर भारतीय कलाओं जैसे कि ओडिसी नृत्य, भरतनाट्यम, भारतीय क्लासिकल के साथ आधुनिक एवं समकालीन प्रस्तुतियों कि झलक इस प्रकार का प्रतीक है कि यहां भारतीय इतिहास कि विश्ववि यात विशाल स यता तथा आधुनिक विचारधारा का संगम हो रहा है जो इन छात्रों के सर्वांगीण विकास में महत्वपूर्ण है। उन्होंने छात्रों से अनुशासन में रहकर सुसंस्कारित बनने का आहवान किया। आज के बच्चे देश के कल के कर्णद्धार हैं। उन्हें अच्छा नागरिक बनाने के लिए अध्यापकों के साथ-साथ अभिभावकों की भी जि मेदारी है। उन्होंने विश्वविद्यालय की उपलब्धियों की भी सराहना की। विश्वविद्यालय के कुलपति राज नेहरू ने मु यातिथि तथा विशिष्ट अतिथि और अन्य गणमान्य व्यक्तियों और अभिभावकों का स्वागत अभिनंदर व्यक्त किया। इस आयोजन में श्री विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय की कुलसचिव डॉ ऋतु बजाज ने विश्वविद्यालय की ओर से विशिष्ट अतिथियों का स्वागत किया। सभी अतिथिगणों और अभिभावकों का धन्यवाद किया तथा प्रतिभागियो को शुभकामनाएं दी। उन्होंने विश्वविद्यालय की यात्रा को साझा किया और कहा कि इस विश्वविद्यालय का उद्देश्य कौशल शिक्षा में सर्वोत्तम प्रथाओं को स्थापित करना है। अधिष्ठाता शैक्षणिक विभाग प्रोफेसर रणधीर सिंह राठौर ने उपस्थिति को विश्वविद्यालय की प्रगति का ब्यौरा दिया और उपलबिध्यों से अवगत करवाया और कहा कि शिक्षा के साथ विद्यार्थियों के मानसिक विकास के लिए ऐसे कार्यक्रम जरूर होने चाहिए। उन्होंने विश्वविद्यालय में चल रहे कोर्स और आने वाले कोर्सो के बारे में भी बताया। श्री विश्वकर्मा विश्वविद्यालय के कोर्स बाकि विश्वविद्यालयों से अलग हैं।

यहां विद्यार्थी अधिक समय इंडस्ट्री में व्यतीत करते हैं और इस संदर्भ में विद्यार्थियों के बहुमुखी विकास में इस तरह के आयोजन मु य भूमिका अदा करते हैं। उन्होंने कहा कि भविष्य में भी इस तरह के और भी आयोजन विस्तृत स्तर पर किए जाते रहेंगे.इस अवसर पर हरियाणा राज्य महिला आयोग की वाइस चेयर पर्सन प्रीति भारद्वाज ने राज नेहरू को वार्षिक महोत्स्व की बधाई दी तथा सभी छात्रों को उनके उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएं दी। पुरस्कार वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला की निदेशक लिपिका वर्मा ने कहा कि यूनिवर्सिटी ने युवाओं को एक बेहतरीन भविष्य के लिए इंडस्ट्री तथा शिक्षा का जो अनूठा प्रयास प्रस्तुत किया है वह उल्लेखनीय है। इस मौके पर अव्वल रहे विद्यार्थियों को पारितोषिक किया गया। अंकित को यूनिवर्सिटी डायरी का ऐप डेवलपमेंट, बी. वॉक ऑटोमोटिव मैन्युफैक्चरिंग व ऑटोमोटिव मैकेट्रॉनिक्स के छात्रों को हीरो को इनोवेटिव आईडिया देकर उनकी क्षमता को बढाने, ललिता और लाडली को नेशनल वैल्डिंग वीमेन, बलदेव को शत प्रतिशत उपस्थिति, वादविवाद में विक्रम, उमंग बिश्नोई, रविंदर तथा रंजीत राठी, प्रश्नोत्तरी में अमित, कार्तिकेय और विशाल, चित्रकला में देवेंदर, एकल गायन (बॉलीवुड) में अश्वनी, एकल गायन (लोक कला) में लक्ष्मण शर्मा, समूह गान में टीम बंचारी एवं टीम बीपीएम, एकल नृत्य में लाडली, समूह नृत्य बीपीएम टीम को पुरस्कृत किया गया। नृत्य धारा और साई डांस अकादमी के छात्रों ने भी तांडव और ओडिसी नृत्य कर सभी को मंत्र मुग्ध किया। इसके अतिरिक्त इंडस्ट्री के स्टाफ को उनके सहयोग के लिए स मानित किया गया।

Related posts

सरकार आने पर सब बच्चों को दूंगा नौकरी: चौटाला

webmaster

फरीदाबाद : स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने ग्राम सीकरी मे 3 करोड़ 60 लाख रूपए की लागत से प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के निर्माण कार्य का किया शिलान्यास।

webmaster

हरियाणा में पीजीटी पदों के लिए भर्ती

webmaster