Athrav – Online News Portal
नोएडा

दिल्ली के नाइट कर्फ्यू से नोएडा वालों की नींद उडी, दिल्ली-नोएडा बार्डर पर भीषण जाम

अरविन्द उत्तम की रिपोर्ट 
राजधानी दिल्ली में कोरोना के मामलों में अचानक तेजी आई से संक्रमण दर के साथ मृतकों की संख्या भी बढ़ रही है हालात को काबू करने के लिए अब सरकार ने नाइट कर्फ्यू लगाने का फैसला लिया है। लेकिन दिल्ली में रात से नाइट कर्फ्यू लागू होने के दिल्ली-नोएडा बार्डर पर भीषण जाम लग गया है और घंटो से लोग जाम में फंसे हुए है। दिल्ली की सीमाओ को सील कर केवल उन्ही वाहनो को प्रवेश दिया जा रहा है जो आपाताकालीन सेवाओं से जुड़े लोग, बिजली, पानी जैसी सेवाओं से जुड़े कर्मचारी को इस नियम में छूट मिली है। यह सभी लोग अपना आई कार्ड दिखाकर आना-जाना कर सकते है। लेकिन बार्डर पर जो वाहनो कि जांच कि जा रही है उसके कारण जो समय लग रहा है और वाहनो कि लाइन लंबी हो रही है।

नोएडा के प्रवेश व्दार पर वाहनो कि लंबी कतार दिल्ली में रात से नाइट कर्फ्यू लागू होने के सीमापार हो रही वाहनो के जांच के कारण लगी और लोग यहाँ घंटो से फंसे हुए है। राजधानी में रात से नाइट कर्फ्यू लागू होने के बाद रात दस बजे से सुबह पांच बजे तक दिल्लीवालों को घर से बाहर निकलने की इजाजत नहीं है। दिल्ली सरकार के जारी आदेश 30 अप्रैल तक लागू रहेगा। जरूरी सेवाओं से जुड़े लोगों के अलावा बंदिश सभी पर लगाई गई है। बेहद जरूरी होने पर ही आम लोगों को बाहर निकलने की छूट होगी। इसके लिए सरकार से ई-पास लेना होगा। उधर, दिल्ली पुलिस व मेट्रो पुलिस की सलाह है कि काम पर निकले लोग हर हालत में रात 10 बजे से पहले घर लौट जाएं। नियम का पालन न करने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

दिल्ली में नाइट कर्फ्यू से नोएडा वालों की नींद उड़ गई है। नौकरी, बिजनेस और अन्य काम के सिलसिले में बड़ी संख्या में लोगों का आना-जाना है। अब फिर से लोगों को ई-पास और पाबंदियों को लेकर चिंता सताने लगी है। सेक्टर- 93 पार्श्वनाथ प्रेस्टीज में रहने वाले रजनीश नंदन मल्टीनेशनल कंपनी में जीएम हैं। उनका कहना है कि उन्हें एनसीआर के शहरों से लेट नाइट आना जाना होता है। दिल्ली में नाइट कर्फ्यू से अब ई-पास के लिए परेशान होना पड़ेगा। नाइट कर्फ्यू औचित्यहीन है। अगर कोई अपनी गाड़ी से यात्रा कर रहा है तो उसमें कोरोना कहां से फैलेगा? सेक्टर- 78 हाइड पार्क सोसायटी मे रहने वाले राजेश कुमार सिंह बिजनेसमैन हैं। उनका ऑफिस दिल्ली में है। उन्होंने बताया कि अक्सर ऑफिस से निकलने में देर हो जाती है। ऐसे में जाम के कारण उन्हें नोएडा पहुंचने में 2 से ढाई घंटे लगते हैं। नाइट कर्फ्यू का समय रात 11 बजे से करना चाहिए। अब फिर पास की टेंशन शुरू हो गई है। अब देखना यह है कि जिला प्रशासन इसको लेकर क्या कदम उठाता है।

Related posts

एक सर्जिकल उपकरण बनाने वाले कंपनी से सैलरी की 15 लाख नकद चोरी करने वाले कंपनी के 1 कर्मचारी सहित 4 अरेस्ट।

webmaster

साले ने जीजा के संग मिलकर रची थी बीएमडब्लू (BMW) कार लूट की फर्जी साजिश का किया खुलासा।

webmaster

हाथ में तमंचा लिए रेप पीड़िता का पिता थाने में पहुंचा तो थाने हाई वोल्टेज ड्रामा क्रिएट हो गया-आगे क्या हुआ-पढ़ें

webmaster
0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x