Athrav – Online News Portal
नई दिल्ली राष्ट्रीय विशेष

तेजी से ओडिशा की तरफ बढ़ रहा है ‘फोनी’ तूफान, 170 kmph की रफ्तार से टकरा सकता है

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
चक्रवाती ‘फोनी’ तूफान आज ओडिशा के तटवर्ती इलाकों से टकराएगा. ‘फोनी’ तूफान ने अपना असर भी दिखाना शुरू कर दिया है. इस वक्त आंध्र प्रदेश में तेज हवाओं के साथ बारिश हो रही है.मौसम विभाग के मुताबिक, चक्रवाती तूफान फोनी का ओडिशा के करीब दस हजार गांवों पर असर पड़ेगा. ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने रिलीफ कैंप का दौरा करने के बाद लोगों से घरों में रहने की अपील की है.प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी फोनी तूफान को लेकर बने हालात पर नजर रखे हुए हैं, वो लगातार अधिकारियों के संपर्क में हैं. तूफान से ओडिशा, आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल के प्रभावित होने की आशंका है.ओडिशा में 11 लाख लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया जा रहा है. फोनी सुबह 8 बजे से 11 बजे तक ओडिशा के तटीय इलाकों में दस्तक दे सकता है.फोनी तूफान ओडिशा के तटीय इलाकों से 170 से 180 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से टकराएगा. ओडिशा के होटलों से पर्यटकों को बाहर निकाला जा रहा है. पर्यटकों को बाहर निकालने के लिए 50 बसों को लगाया गया है. भुवनेश्वर में अबतक 5 सिमी बारिश दर्ज की गई है.

फोनी तूफान अभी पुरी से 60 किलोमीटर की दूरी पर है. ये तूफान सुबह 8 बजे से 11 बजे के बीच कभी भी ओडिशा के तटीय इलाकों में पहुंच सकता है.गृह मंत्रालय ने बताया है कि ओडिशा सरकार ने राष्ट्रीय संकट प्रबंधन समिति (एनसीएमसी) को जानकारी दी कि 10,000 गांव और 52 शहर और कस्बे इस तूफान से प्रभावित होंगे. ओडिशा सरकार द्वारा लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाने का कार्य पहले से ही किया जा रहा है. सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाए जा रहे लोगों के रहने के लिए लगभग 900 तूफान आश्रय स्थल पहले ही तैयार कर लिए गए हैं.फोनी तूफान की वजह से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की चाईबासा में 5 मई को होने वाली चुनावी रैली को एक दिन के लिए टाल दिया गया है. पश्चिम सिंहभूम जिले के चाईबासा में अब प्रधानमंत्री मोदी की रैली छह मई को होगी.अमेरिका की अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने भारतीय समुद्र तट के पास च्रकवात फोनी की उपस्थिति दर्ज की है. नासा के उपग्रहों एक्वा और टेरा ने चक्रवात फोनी की उपस्थिति दर्ज की है, जो भारत के पूर्वी तट के साथ-साथ उत्तर की ओर आगे बढ़ रहा है.फोनी’ के पुरी के दक्षिणी भाग चांदबाली और गोपालपुर के बीच ओडिशा तट को पार करने की संभावना है. पुरी में 100 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल रही हैं. भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक, ओडिशा में पुरी से करीब 360 किलोमीटर दूर दक्षिण-दक्षिण पश्चिम, आंध्र प्रदेश में विशाखापत्तनम से 190 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिणपूर्व और पश्चिम बंगाल के दीघा में 550 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिण पश्चिम में फोनी चक्रवात केन्द्रित है.


मौसम विभाग के अधिकारियों ने ओडिशा समेत सभी प्रभावित इलाकों के मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने का अलर्ट जारी किया है. पश्चिम बंगाल के दीघा में तूफान के चलते तेज बारिश हो रही है. पर्यटकों को तटीय इलाकें खाली करने की चेतावनी दी गई है.ओडिशा में फोनी तूफान की दस्तक से पहले हड़कंप मच गया है. पेट्रोल पंपों पर लोगों की लंबी-लंबी कतारें लग गई हैं. तूफान के चलते रेलवे ने 223 ट्रेनें रद्द कर दी हैं. हालांकि पर्यटकों के लिए तीन विशेष ट्रेनें लगाई गईं हैं. तूफान से निपटने के लिए NDRF की 81 टीमें भी तैनात की गईं है. ओडिशा के पास विशेष 28 टीमें तैनात की गईं जा चुकी हैं.फोनी तूफान से बचाव के लिए ओडिशा के तटीय इलाकों से लोगों को निकालना जारी है. इन इलाकों से करीब 11 लाख लोगों को सुरक्षित निकालने के लिए अभियान चलाया जा रहा है. मौसम विभाग के मुताबिक चक्रवाती तूफान फोनी का ओडिशा के करीब दस हजार गांवों पर असर पड़ेगा. इन इलाकों की करीब 500 गर्भवती महिलाओं को सुरक्षित अस्पताल पहुंचा दिया गया है.

Related posts

विश्व का सबसे पुराना और कार्य कर रहा इंजन “फेयरी क्विन” एक बार फिर विरासत ट्रेन ले जाएगा

webmaster

जेटली करेंगे मोमेंटम झारखंड का उद्घाटन, गडकरी, वेंकैया भी होंगे शामिल

webmaster

आसमान में आग का गोला बन गया प्लेन, कोलंबिया में शनिवार को एक विमान दुर्घटना में 12 लोगों की मौत हो गई.पायलट भी शामिल

webmaster