Athrav – Online News Portal
फरीदाबाद वीडियो

स्कूल व कपडे की दुकान में लगी भयंकर आग में स्कूल संचालिका व उसके दो बच्चों की दर्दनाक मौत, खुद देखिए इस वीडियो में ।

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
फरीदाबाद :डबुआ कालोनी में आज तक़रीबन प्रात:7 :30 बजे एक निजी प्ले- स्कूल एंव कपडे की दुकान में लगी भयंकर आग में एक ही परिवार के दो मासूम बच्चे सहित 3 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। पुलिस ने तीनों शवों को पोस्टमार्टम कराने के लिए जिले के नागरिक अस्पताल के शव कक्ष में रखवा दिया हैं। पुलिस के मुताबिक दमकल विभाग के कर्मियों ने भारी मशक्कत के बाद लगी आग पर पूरी तरह से काबू पा लिया हैं। वहीँ,लोगों की माने तो यह आग शार्ट शर्किट के कारण लगी हैं। आप स्वंय इस हादसे की वीडियो और तस्बीरों को देख सकतें हैं।

पुलिस के मुताबिक विशाल के परिवार में कुल 4 लोग थे जिसमें उसकी पत्नी नीता व एक लड़का व एक लड़की यशिका 8 साल थी। उसकी डबुआ कालोनी में दो मंजिलों का एक मकान हैं, जिसके निचले हिस्सों में उसकी कपडे की दूकान थी, एक मंजिल पर वह स्वंय अपने परिवार के साथ रहता था। जिसमें उसकी पत्नी नीता व दो लड़का -लड़की शामिल हैं और दूसरी मंजिल पर उसकी पत्नी नीता एक प्ले स्कूल चलाती थी। विशाल ने पुलिस को बताया कि आज प्रात करीब साढ़े 7 बजे वह अपने घर के लिए दूध लेने के लिए गया था जब वह वापिस आया तो उसकी कपङे की दुकान से जबरदस्त धुआं निकल रहा था। वह तुरंत भाग कर ऊपर कमरे में गया और अपने पत्नी नीता जो सो रही थी को उठा कर दुकान में आग लगने की खबर बताई और दोनों बच्चों को लेकर उसे जल्द ही नीचे उतरने को कहा।



इसके बाद वह स्वंय नीचे आ कर दुकान में लगी आग को बुझाने का प्रयास करने लगा पर आग बुझने के बजाए और ज्यादा फ़ैल गई और इस आग के धुएं ने नीता और उसके दो बच्चे को अपने चपेट में ले लिया और तीनों लोग धुएं में दम घुटने के कारण वहीँ बेहोश हो गए। इसके बाद लोगों ने बिल्डिंग के पिछले हिस्से में एक खिड़की हैं जिसमें एक बड़ी सी सीढ़ी लगा कर उसमें से तीनों को एक -एक करके बेहोशी के हालत में नीचे उतरा गया और उन लोगों को गाडी में डाल कर जिले के नागरिक अस्पताल में ईलाज के लिए लाया गया जहां पर डॉक्टरों ने तीनों को मृत घोषित कर दिया। इस घटना की सुचना मिलने के तुरंत बाद दमकल की कई गाड़ियां एक -एक करके मौके पर पहुंच गई व डबुआ कालोनी के एसएचओ अपने टीम के साथ मौके पर पहुंच कर हालत को अपने काबू में किया। यह हादसा पर जिला प्रशासन के ऊपर फिर से कई सवालों को खड़ा कर दिया हैं।

उधर,फरीदाबाद के उपायुक्त अशोक कुमार गर्ग ने फरीदाबाद शहर के डबुआ क्षेत्र में मकान में लगी आग के कारण एक महिला व दो बच्चों की मौत पर अपनी गहरी संवेदना व्यक्त की है। मृतक महिला अपने पति व बच्चों के साथ डबुआ क्षेत्र में एक मकान में रह रही थी। उसी मकान में नीचे के हिस्से में मृतक महिला के पति विशाल ने कपड़ों की दुकान खोल रखी थी जबकि मकान के 2 फ्लोर में से एक पर उसका परिवार रहता था एवं दूसरे फ्लोर पर मृतक नीता ने प्ले-स्कूल चला रखा था। हादसे में मारे गए दोनों बच्चे मकान मालकिन नीता के थे। यह जांच का विषय है कि आग लगने का कारण कोई लापरवाही तो नही थी और प्ले-स्कूल फायर सेफ्टी नियमों के आधार पर चल रहा था या नही उपायुक्त ने कहा फरीदाबाद जिला में स्कूलों, कोचिंग संस्थानों व पी.जी आदि में फायर सेफ्टी के मानदंडों की चैकिंग की जाएगी और नियमों का पालन न करने वाले संस्थानों के खिलाफ सख्त कार्रवाई जाएगी। उधर, हरियाणा शहरी स्थानीय निकाय एवं अग्निशमन सेवाएं विभाग के महानिदेशक ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश में फायर सेफ्टी के लिए प्रतिबद्घ है। अगर कोई भी संस्थान फायर सेफ्टी के नियमों की अवहेलना करता पाया गया तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Related posts

फरीदाबाद : दोनों मंत्रियों के खींचतान के कारण ओल्ड नगर निगम के तोड़फोड़ विभाग में कोई रहना नहीं चाहता,बिल्डिंग इंस्पेक्टरों के पद खाली हैं।

webmaster

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का आज निधन हो गया, उनकी 37 तस्बीरें अलग-अलग अंदाज में देखिए,जिंदा दिल्ली इंसान थे।

webmaster

फरीदाबाद : मुख्यमंत्री मनोहर लाल खटटर ग्रीन फील्ड कालोनी आरडब्लूए के प्रधान वीरेंद्र भड़ाना को आश्वस्त कर गए,जल्द निगम में शामिल होंगें कालोनी।

webmaster
error: Content is protected !!