Athrav – Online News Portal
खेल पंजाब

आईपीएल -12: RCB ने खत्म किया जीत का सूखा, कोहली-डिविलियर्स का धमाका

मोहाली :कप्तान विराट कोहली (67) और धुरंधर बल्लेबाज एबी डिविलियर्स (57) की धमाकेदार पारियों की बदौलत रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु ने आईपीएल सीजन 12 में आखिरकार अपनी जीत का सूखा खत्म करते हुए किंग्स इलेवन पंजाब को 8 विकेट से मात दे दी. आईपीएल सीजन 12 में लगातार 6 हार के बाद RCB की यह पहली जीत है. टॉस हारकर पहले बैटिंग करने उतरी किंग्स इलेवन पंजाब की टीम ने 20 ओवर में 4 विकेट गंवा कर 173 रन बनाए और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु को जीत के लिए 174 रनों का टारगेट दिया.जवाब में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु की टीम ने 19.2 ओवर में 2 विकेट गंवा कर 174 रन बना लिए और पंजाब को हरा दिया. कोहली ने 53 गेंदों पर 67 और डिविलियर्स ने 38 गेंदों पर नाबाद 59 रन बनाए. इन दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 85 रन की साझेदारी की. मार्कस स्टोइनिस ने आखिरी क्षणों में 16 गेंदों पर नाबाद रन की पारी खेली जिससे बेंगलुरु 19.2 ओवर में दो विकेट पर 174 रन बनाकर अपना खाता खोलने और क्रिस गेल की पारी पर पानी फेरने में सफल रहा. किंग्स इलेवन ने पहले बल्लेबाजी का न्योता मिलने पर चार विकेट पर 173 रन बनाए. गेल ने केवल एक रन से शतक से चूक गए.

गेल ने 64 गेंदों पर नाबाद 99 रन बनाए और इस बीच दस चौके और पांच छक्के लगाए. उनके अलावा किंग्स इलेवन का कोई भी अन्य बल्लेबाज 20 रन तक नहीं पहुंच पाया. पंजाब की यह आठ मैचों में चौथी हार है जबकि बेंगलुरु की सात मैचों में पहली जीत. उसे पहले छह मैचों में हार का सामना करना पड़ा था. कोहली ने पारी के दूसरे ओवर में मोहम्मद शमी का दो चौकों से स्वागत करके अपने इरादे जतला दिए थे लेकिन पार्थिव पटेल (नौ गेंदों पर 19) देर तक नहीं टिक पाए. उनकी जगह लेने के लिए उतरे डिविलियर्स ने भी अपने कप्तान के अंदाज में बल्लेबाजी की जिससे पावरप्ले में स्कोर एक विकेट पर 63 रन तक पहुंच गया. कोहली और डिविलियर्स ने आईपीएल में जोड़ी के रूप में सर्वाधिक रनों का नया रिकॉर्ड भी बनाया. कोहली 37 गेंदों पर 50 रन पर पहुंचे. इस बीच वह भारत की तरफ से टी-20 में सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज बने. उन्होंने सुरेश रैना (8145) को पीछे छोड़ा. मोहम्मद शमी ने हालांकि उन्हें आसान कैच देने के लिए मजबूर किया. कोहली ने आठ चौके लगाए. जब कोहली आउट हुए तो बेंगलुरु को 26 गेंदों पर 46 रन की दरकार थी. ऐसे में एंड्रयू टाय का पारी का 18वां ओवर निर्णायक साबित हुआ. स्टोइनिस ने इस ओवर में लगातार दो चौके लगाए, जीवनदान पाया जबकि डिविलियर्स ने पारी का पहला छक्का जमाया. शमी के अगले ओवर में भी दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज ने छक्का लगाया. डिविलियर्स की पारी में इन दो छक्कों के अलावा पांच चौके भी शामिल हैं.

क्रिस गेल की 64 गेंद पर नाबाद 99 रन की पारी की मदद से किंग्स इलेवन पंजाब ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु की बीच के ओवरों की कसी हुई गेंदबाजी के बावजूद चार विकेट पर 173 रन बनाए. गेल ने अपनी पारी में दस चौके और पांच छक्के लगाए. उनके अलावा किंग्स इलेवन का कोई भी अन्य बल्लेबाज 20 रन तक नहीं पहुंच पाया. गेल भी भाग्यशाली रहे. जब उन्होंने खाता भी नहीं खोला था तब उनके खिलाफ एलबीडब्ल्यू की विश्वसनीय अपील ठुकरा दी गई और बेंगलुरु ने रिव्यू न लेकर गलती की. इसके बाद विराट कोहली ने उनका आसान कैच भी छोड़ा. सुरेश रैना (2013) के बाद गेल दूसरे बल्लेबाज हैं जो आईपीएल में 99 रन पर नाबाद रहे.गेल ने अपनी पारी के दौरान केएल राहुल (18) के साथ पहले विकेट के लिए 66 और मनदीप सिंह (नाबाद 18) के साथ पांचवें विकेट के लिए 60 रन की अटूट साझेदारी की. बेंगलुरु के गेंदबाजों विशेषकर युजवेंद्र चहल (33 रन देकर दो), मोइन अली (19 रन देकर एक) और नवदीप सैनी (चार ओवर में 23 रन) की तारीफ करनी होगी जिन्होंने बीच के सात ओवरों में केवल 42 रन देकर गेल की मौजूदगी के बावजूद पंजाब को विशाल स्कोर नहीं बनाने दिया. गेल ने शुरू में बेहद सहजता से बल्लेबाजी की. पहली आठ गेंदों पर उन्होंने केवल दो रन बनाए थे. वह पिछले कुछ समय से ऐसी शुरुआत करते रहे हैं इसलिए पंजाब के लिए चिंता का विषय नहीं था और गेल ने उमेश यादव की अगली दो गेंदों पर पहले चौका और फिर लांग ऑन पर छक्का जड़कर इसे साबित भी कर दिया.

गेल ने सबसे कड़ा सबक तो मोहम्मद सिराज (54 रन देकर एक विकेट) को सिखाया. पावरप्ले के अंतिम ओवर में विराट कोहली ने सिराज को गेंद सौंपी थी. गेल ने इस ओवर में तीन चौकों और दो छक्कों की मदद से 24 रन बटोरकर स्कोर 60 रन पहुंचा दिया. चहल पावरप्ले के बाद गेंदबाजी के लिये आए. दूसरे सलामी बल्लेबाज केएल राहुल ने छक्के से उनका स्वागत किया लेकिन अगली गेंद पर लंबा शॉट खेलने से चूक गए और बाकी काम विकेटकीपर पार्थिव पटेल ने पूरा कर दिया. राहुल की जगह लेने के लिए उतरे मयंक अग्रवाल (15) भी चहल के अगले ओवर में छक्का जड़ने के बाद अगली गेंद पर बोल्ड हो गए. सरफराज खान (15) ने चलन बरकरार रखा. सिराज पर छक्का लगाने के बाद अगली गेंद पर वह विकेट के पीछे कैच दे बैठे. मोइन अली ने हमवतन सैम कुरेन (एक) को आते ही पवेलियन की राह दिखा दी. बीच के ओवरों में गेल भी कुछ खास नहीं कर पाए. इस बीच जब वह 83 रन पर थे तो कोहली ने उनका आसान कैच भी छोड़ा जिसका जश्न उन्होंने उमेश पर छक्का जड़कर मनाया. गेल को शतक के लिए आखिरी गेंद पर छक्का चाहिए था लेकिन वह गेंदबाज सिराज पर चौका ही जड़ पाए.

Related posts

प्रीति जिंटा को आईपीएल में मिली ऐसी खुशी लगीं झूमकर नाचने, खिलाड़ियों संग तस्बीर हुआ वायरल

webmaster

फरीदाबाद:किक बाक्सिंग फेडरेशन ऑफ इण्डिया के बैनर तले द्वितीय जिला स्तरीय किकबाक्सिंग प्रतियोगिता का किया गया आयोजन।

webmaster

फरीदाबाद :रेयान स्कूल ने जीता छठा रमेश ललित मैमोरियल क्रिकेट टूर्नामैंट, अच्छा क्रिकेटर बनने से पहले अच्छा इंसान बने खिलाड़ी : संजय भाटिया

webmaster