Athrav – Online News Portal
टेक्नोलॉजी फरीदाबाद

फरीदाबाद पुलिस ने की ’ज़िम्मेदार’ नागरिकों की प्रशंसा, कहा ’थैंक्यू टीचर्स“

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
कहा जाता है कि हमारे माता-पिता ही हमारे सर्वप्रथम शिक्षक एवं मार्गदर्शक होते हैं। इसी सोच के साथ फरीदाबाद पुलिस ने रविवार को ’शिक्षक दिवस’ के अवसर पर अपनी नियमित गश्त के दौरान विभिन्न लोगों से संवाद स्थापित करते हुए उनके ’ज़िम्मेदार’ नागरिक होने के तौर पर किए गए अनेकों मार्गदर्शी कार्यों की सराहना की। शिक्षक दिवस के अवसर पर पुलिस कमिश्नर ओपी सिंह ने कहा कि “हर ज़िम्मेदार नागरिक एक शिक्षक है“ ’थैंक्यू टीचर्स“ के माध्यम से फरीदाबाद पुलिस लोगों तक यह संदेश पहुंचाना चाहती है कि हमारे समाज में मौजूद कोई भी नागरिक अपने परिजनों, साथियों मित्रों, बच्चों आदि को संवेदनशील मुद्दों के बारे में जागरूक करते हुए स्वयं एक प्रेरणा स्त्रोत बनकर,एक शिक्षक के रूप में राष्ट्र निर्माण की दिशा में अपना अहम योगदान दे सकता है।

पुलिस प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस टीम ने लोगों को दिए अभिनंदन पत्र ‘टीचर्स डे’ की बधाई के साथ-साथ फरीदाबाद पुलिस महिला थाना प्रबंधक 16 इंस्पेक्टर गीता और उनकी टीम, महिला थाना प्रबंधक एनआईटी इंस्पेक्टर माया और उनकी टीम एवं महिला थाना बल्लभगढ़ इंस्पेक्टर नेहा और उनकी टीम ने विभिन्न लोगों को एक अभिनंदन पत्र भी दिया जिसमें नियमित रूप से उनके द्वारा निर्वहन की गई विभिन्न प्रकार की सामाजिक जिम्मेदारियों का उल्लेख था। इस पत्र में माता-पिता व अभिभावकों द्वारा अपने बच्चों को सड़क सुरक्षा नियमों बारे दी गई  शिक्षा,वर्तमान आईटी के दौर में सभी को इंटरनेट का सुरक्षित उपयोग करने का तरीका समझाने ,महिलाओं का सम्मान करने, नशे से दूर रहने व कोविड सुरक्षा नियमों की अनुपालना करने जैसे सामाजिक जागरूकता के कार्य शामिल थे। डा. सर्वपल्ली राधाकृष्णन द्वारा उनके शिक्षक के रूप में दिए गए योगदान को हमेशा याद रखने के लिए हर साल 5 सितंबर का दिन ’शिक्षक दिवस’ के रूप में मनाया जाता है। इस दिन शिक्षकों द्वारा समाज में दिए गए उल्लेखनीय योगदान के लिए उन्हें सम्मानित भी किया जाता है। गुरुओं के सम्मान में आयोजित पावन पर्व के इसी महत्वपूर्ण उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए, फरीदाबाद पुलिस ने समाज में शिक्षकों की भांति अपना दायित्व निभाने वाले नागरिकों को ’’शिक्षक दिवस’’ की बधाई के साथ-साथ उनके द्वारा विभिन्न सामाजिक मुद्दों पर लोगों को जागरूक करने के सराहनीय कार्यों के लिए उन्हें कहाँ ’थैंक्यू’।

Related posts

फरीदाबाद : विजय रामलीला में राम बारात के बदले दिखाई गई शगनो की रात

webmaster

दो भाइयों ने मिलकर अपने छोटे भाई की गोली मार कर हत्या कर, आगरा कैनाल में फेंक दिया और उसकी गुमशुदगी रिपोर्ट लिखवा दी।

webmaster

गीता मंदिर पार्क में आयोजित डांडिया उत्सव में 23 से 83 साल तक की महिलाओं ने लिया हिस्सा

webmaster
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x