Athrav – Online News Portal
टेक्नोलॉजी फरीदाबाद

फरीदाबाद: मानव रचना को मिली डिस्टेंस और ऑनलाइन कोर्स की मान्यता

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
फरीदाबाद:मानव रचना इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एंड स्टडीज को यूजीसी द्वारा सेंटर फॉर डिस्टेंस और ऑनलाइन एजुकेशन की मान्यता दी गई है। अब देश के किसी भी कोने से छात्र घर बैठे ही मानव रचना के बीबीए, बीए ऑनर्स ईकोनॉमिक्स, बीसीए, एमसीए, एमबीए और एमकॉम कोर्स में दाखिला ले सकते हैं। दाखिला प्रक्रिया सोमवार 22 नवंबर 2021 से ऑनलाइन शुरू होगी।सेंटर फॉर डिस्टेंस एंड ऑनलाइन एजुकेशन  के डायरेक्टर और एमआरआईआईआरएस के वीसी डॉ. प्रदीप कुमार ने बताया ऑनलाइन शिक्षा में मानव रचना ने कई उद्योगों जैसे माइक्रोसॉफ्ट, ज़ेबिया, क्विकहील, टैलेंट एज, बीएसई और कई अन्य बड़े संगठनों के साथ भागीदारी की है। उन्होंने कहा, इन प्रोग्राम्स के अंतर्गत दिव्यांग, महिलाओं, सरकारी कर्मचारी, मानव रचना के एलुम्नाई और स्टेट एंड अबव लेवल पर खेलने वाले खिलाड़ियों को स्कॉलरशिप दी जाएगी।

डॉ.प्रशांत भल्ला ने कहा, मानव रचना के लिए यह वास्तव में एक उल्लेखनीय उपलब्धि है और मानव रचना इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एंड स्टडीज को यूजीसी द्वारा मान्यता प्राप्त ऑनलाइन डिग्री प्रोग्राम की शुरुआत के साथ 25वें वर्ष में एक नई यात्रा शुरू हो रही है। ऑनलाइन स्पेस आज हर किसी के सीखने और व्यक्तियों को कुशल और नौकरी के लिए तैयार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। शिक्षा की शक्ति के माध्यम मानव रचना एक नई पथ में प्रवेश कर रहा है, जहां हम देश में कहीं भी शिक्षार्थियों के समुदाय तक पहुंचने का प्रयास करेंगे।आपको बता दें, इन ऑनलाइन कार्यक्रमों में नामांकित होने वाले छात्रों को लोकप्रिय मंच  SWAYAM पर होस्ट किए गए एलएमएस का एक्ससे मिलेगा और इससे शिक्षार्थियों किसी भी डिवाइस पर किसी भी समय हमारे विशेषज्ञों द्वारा डिज़ाइन की गई डिजिटल सामग्री तक पहुंच पाएगा। छात्र एलएमएस पर होस्ट किए गए स्व-गतिशील पाठ्यक्रमों के माध्यम से एचडी वीडियो और असाइनमेंट देख सकते हैं। छात्र ईआरपी मोड्यूल से टाइम टेबल, मार्क्स, एटेंडेंस, फी मैनेजमेंट और बाकी जानकारी ले सकेंगे। हमने छात्रों की किसी भी आवश्यकता को पूरा करने के लिए विशेष रूप से एक शिक्षार्थी सहायता केंद्र बनाया है ताकि उन्हें सीखने का एक सहज अनुभव हो सके। छात्र अपने प्रश्नों को हल करने के लिए समर्पित ईमेल या लाइव चैट सुविधा के माध्यम से हमारे तकनीकी कर्मचारियों तक पहुंच सकते हैं। यह सहायता केंद्र प्रत्येक शिक्षार्थी को ऑनलाइन सीखने में सहज बनाने के लिए हाथ से काम करेगा ताकि वे उपलब्ध संसाधनों से सर्वोत्तम परिणाम प्राप्त कर सकें।कार्यक्रम में बीएसई इंस्टीट्यूट लिमिटेड के पुल्लक भट्टाचार्जी और टैलेंट एज के ग्रुप डीन डॉ. शिवाकांत उपाध्याय, एमआरईआई के वीपी डॉ. अमित भल्ला, डॉ. संजय श्रीवास्तव, डॉ. एनसी वाधवा, डॉ. श्वेता भाटिया, पीवीसी नरेश ग्रोवर, रजिस्ट्रार आरके अरोड़ा, समेत कई गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे।

Related posts

फरीदाबाद की ग्रीन फिल्ड कालोनी में बिजली-पानी की भारी किल्ल्त को लेकर आरडब्लूए ने यूआईसी को ज्ञापन सौपा।

webmaster

सूरजकुंड थाना पुलिस ने आज 150 लोगों के खिलाफ किया केस दर्ज, लोगों को भड़काने के जुर्म में मुख्य आरोपी निर्मल अरेस्ट

webmaster

फरीदाबाद : एन.आई.टी स्थित दशहरा मैदान में सिद्धपीठ हनुमान मंदिर द्वारा भरत मिलाप का आयोजन बड़ी धूम- धाम से किया गया

webmaster
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x