Athrav – Online News Portal
फरीदाबाद

फरीदाबाद :चीनी ब्यापारी ने क्राइम ब्रांच बॉर्डर पर बिना वजह थर्ड डिग्री व पत्नी से बदतमीजी करने का आरोप लगाया, आरोप गलत ।


अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
फरीदाबाद : बल्लभगढ़ के सबसे बड़े चीनी ब्यापारी मोहित गोयल को क्राइम ब्रांच बॉर्डर ने पूछ ताछ के लिए उसके दुकान से उठाया था,ऐसे में उसके पत्नि के साथ बद्सलूकी का आरोप बिल्कुल गलत हैं, वह स्वंय अपने बुआ के घर पुलिस को लेकर गया था जहां तक रोलर फेरने व हाथ -पैर बांध कर थर्ड डिग्री देने का आरोप उनके ऊपर लगाए गए हैं,जोकि बिल्कुल झूठ हैं,मैसर्स लक्ष्मी नारायण फर्म का सदस्य हैं,यह पुलिस को जांच के दौरान बैंक से लिए गए दस्ता में मालूम चला मोहित गोयल,जिसमें एक करोड़ 97 लाख रूपए शिकायतकर्ता मुकेश गुप्ता ने ट्रांसफर किए थे मेसर्स लक्ष्मी नारायण राम गोपाल के खाते में, जिनमें से मात्र 66 लाख 56 हजार रूपए लौटाए थे, ओल्ड फरीदाबाद थाने में दर्ज मुकदमे में पूछताछ करना पुलिस का बनता हैं। इस केस की जांच की जिम्मेदारी उनके पास हैं,इस केस की जिम्मेदारी पुलिस के बड़े अधिकारी ने क्राइम ब्रांच बॉर्डर को सौपी थी। यह कहना हैं कि क्राइम ब्रांच बॉर्डर के इंचार्ज संदीप चहल का।वहीँ ,ब्यापारी मोहित गोयल आज सैकड़ों ब्यापारियों को साथ लेकर बल्लभगढ़ के भाजपा विधायक मूलचंद शर्मा के कार्यालय पर पहुंचे,क्राइम ब्रांच बॉर्डर के इंचार्ज संदीप चहल के बारे में बढ़ा चढ़ा कर गलत शिकायत की हैं। उनकी माने तो मोहित गोयल के पिता राम गोपाल,उनकी मां श्रीमती मिथलेश, सुभाष गोयल ,बैभव गोयल व एक करोड़ 30 लाख 44 हजार रूपए की धोखाधड़ी की हैं।

बीते 29 जुलाई को ओल्ड फरीदाबाद थाने में दर्ज मुकदमा नंबर -304 में मेसर्स लक्ष्मी नारायण राम गोपाल, उनकी धर्मपत्नि मिथलेश,सुभाष गोयल व बैभव गोयल के खिलाफ भारतीय दंड सहिंता की धारा 34 , 406 ,420 व 506 के तहत दर्ज किया गया हैं। दर्ज मुकदमे में शिकायतकर्ता मुकेश गुप्ता ने कहा हैं कि वह ओल्ड फरीदाबाद, सेक्टर -19 के मकान नंबर -100 में अपने परिवार संग रहते हैं, उनका पेट्रोल पम्प हैं। उनका कहना हैं कि चीनी ब्यापारी राम गोपाल,उनकी धर्मपत्नी मिथलेश, सुभाष गोयल व बैभव के साथ उनका संबंध अच्छे थे और एक -दूसरे के परिवार में खूब आना जाना था। एक दिन राम गोपाल व उनकी धर्म पत्नीं मिथलेश व उनके परिवार के दोनों सदस्य आए और राम गोपाल कहने लगा की, उसे दो करोड़ रूपए की बड़ी सख्त जरुरत हैं, इन पैसों की वजह से उनकी डील अटकी हुई हैं, के बाद उन्होनें उनसे कहा कि अभी तो उनके पास इतने पैसे नहीं हैं। फिर राम गोपाल ने उनसे कहा कि अपने मकान पर बैंक से लोन लेकर मुझे दो करोड़ रूपए दे दो, यह पैसा जल्द ही वह लौटा देंगें।
बार बार वह उन पर अच्छे रिश्ते का वास्ता दे रहा था। यह घटना वर्ष 2015 का हैं। इसके बाद वह तैयार हो गए, उन्होनें अपने मकान के ऊपर बैंक से दो करोड़ 20 लाख रूपए का लोन लिए ,वह लोन का पैसा बैंक ने उनके फर्म में ट्रांसफर कर दिया । उनका कहना हैं कि इसके बाद उन्होनें उन्हें दो बार में मेसर्स लक्ष्मी नारायण राम गोपाल के खाते में एक करोड़ व 97 लाख रूपए ट्रांसफर कर दिए। उनका कहना हैं कि एक बार में उनके फर्म में 75 लाख रूपए व दूसरी बार में एक करोड़ 22 लाख रूपए आरटीजीएस के जरिए ट्रांसफर कर दिया गया। इसके बाद उसने उन्हें 66 लाख 56 हजार रूपए लौटा दिए पर उनका उन पर एक करोड़ 30 लाख 44 हजार रूपए बाकि के रह गए,जोकि एक प्रॉपर्टी में इन्वेस्टमेंट के नाम पर रोक लिया और वहां पर उनसे धोखाधड़ी करके,उनके एक करोड़ 30 लाख 44 हजार रुपए हड़प लिए हैं। फिलहाल इस प्रकरण की जांच क्राइम ब्रांच बॉर्डर की टीम कर रहीं हैं।

Related posts

फरीदाबाद : छायंसा थाना क्षेत्र में खेतों में घोड़ी घुसने को लेकर दो समुदायों के बीच जमकर हुई पत्थरबाजी,दोनों पक्षों के16 लोग घायल,केस दर्ज ।

webmaster

फरीदाबाद: केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्ण पाल ने सेक्टर -31 के कम्युनिटी सेंटर में दिव्यांग जनों को 200 मोटर इज ट्राई साइकिल बाटें।

webmaster

ग्रीन फिल्ड कालोनी में ठेकेदारों से कौन मांग रहा हैं, एक लाख रूपए प्रति माह, पुलिस ने क्यों की कार्रवाई बिलंब, देखिए वीडियो।  

webmaster
error: Content is protected !!