Athrav – Online News Portal
दिल्ली नई दिल्ली राष्ट्रीय व्यापार

अगर आपको बैंकिंग से जुड़े काम कराने हैं तो आज यानी 25 नवंबर को निपटा लें क्योंकि 26 नवंबर को देश के अधिकतर बैंकों में कामकाज नहीं होगा. ज्यादातर बैंकों ने अपने ग्राहकों के लिए सोशल मीडिया के जरिए एक अलर्ट मैसेज भी जारी कर दिया है.दरअसल, केंद्रीय ट्रेड यूनियनों की 26 नवंबर को राष्ट्रव्यापी आम हड़ताल है. इस हड़ताल में अखिल भारतीय बैंक कर्मचारी संघ (एआईबीईए) ने भी शामिल होने की घोषणा की है.

एआईबीईए के मुताबिक महाराष्ट्र में सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों, पुरानी पीढ़ी के निजी क्षेत्र के बैंकों,क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों और विदेशी बैंकों के करीब 30,000 कर्मचारी हड़ताल में शामिल होंगे.आपको बता दें कि एआईबीईए भारतीय स्टेट बैंक और इंडियन ओवरसीज बैंक को छोड़कर ज्यादातर बैंकों का प्रतिनिधि त्व करता है.इसके सदस्यों में विभिन्न सार्वजनिक और पुराने निजी क्षेत्र के बैंकों के अलावा कुछ विदेशी बैंकों के चार लाख कर्मचारी हैं.

एआईबीईए ने कहा,‘‘लोकसभा ने हाल में संपन्न सत्र में तीन नए श्रम कानूनों को पारित किया है और कारोबार सुगमता के नाम पर 27 मौजूदा कानूनों को समाप्त कर दिया है. ये कानून शुद्ध रूप से कॉरपोरेट जगत के हित में हैं. इस प्रक्रिया में 75 प्रतिशत श्रमिकों को श्रम कानूनों के दायरे से बाहर कर दिया गया है.नए कानूनों में इन श्रमिकों को किसी तरह का संरक्षण नहीं मिलेगा.’’ 26 नवंबर की हड़ताल के अगले दिन शुक्रवार को बैंकों में कामकाज होगा. इसके बाद एक बार फिर 28 को चौथे शनिवार के कारण और 29 नवंबर को रविवार की वजह से बैंक बंद रहेंगे.हालांकि, 26 नवंबर के हड़ताल या अवकाश का डिजिटल लेनदेन पर असर नहीं पड़ेगा. कहने का मतलब ये है कि आप नेटबैंकिंग या मोबाइल बैंकिंग के जरिए ट्रांजैक्शन कर सकते हैं. वहीं, एटीएम से भी पैसे निकाल सकते हैं.

Related posts

चीन को अमेरिका की दो टूक- मसूद पर बैन नहीं लगा तो क्षेत्रीय शांति का मिशन होगा फेल.UNSC की बैठक में आज मसूद अजहर के भविष्य का फैसला होगा.

webmaster

सीएम अरविंद केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने प्लाज्मा बैंक का किया दौरा

webmaster

सिग्नल पर नहीं रुकेंगी ट्रेनें

webmaster
error: Content is protected !!